Nirav Modi London | Nirav Modi Assets Punjab National Bank Latest News Updates; PNB to take possession of Fugitive diamond merchant properties | नीरव मोदी की 1200-1500 करोड़ रुपए की संपत्तियां पीएनबी के कब्जे में आ सकती हैं

0
Advertisement


  • इस रिपोर्ट से पीएनबी का शेयर 3% चढ़ा, बीएसई पर 66.70 रुपए पर बंद हुआ
  • नीरव की संपत्तियां पीएनबी के पास गिरवी थीं, लेकिन ईडी ने अटैच कर दी थीं 
  • विशेष अदालत नीरव को भगोड़ा घोषित कर चुकी, इसलिए पीएनबी को फिर से एसेट्स मिल जाएंगे

Dainik Bhaskar

Jan 02, 2020, 06:18 PM IST

मुंबई. नीरव मोदी की 1200-1500 करोड़ रुपए की संपत्तियां पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) को वापस मिलेंगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोदी की इतनी वैल्यू की संपत्तियां पीएनबी के पास गिरवी रखी थीं, लेकिन प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अटैच कर दी थीं। इनमें शेयर और दक्षिण मुंबई की प्रॉपर्टी की शामिल है। इनके वापस मिलने की रिपोर्ट से पीएनबी के शेयर में गुरुवार को तेजी आई। बीएसई पर शेयर 3.09% बढ़त के साथ 66.70 रुपए पर बंद हुआ। एनएसई पर 3.25% ऊपर 66.80 रुपए पर क्लोजिंग हुई।

मेहुल चौकसी की संपत्तियां भी पीएनबी को जल्द मिलने की उम्मीद
प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) अदालत ने 5 दिसंबर को नीरव मोदी को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया था। रिपोर्ट के मुताबिक पीएनबी घोटाले के दूसरे आरोपी मेहुल चौकसी को भगोड़ा घोषित किए जाने के बाद उसकी संपत्तियां भी पीएनबी के कब्जे में आ जाएंगी।

नीरव और मेहुल 13700 करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले के आरोपी हैं। नीरव लंदन की जेल में है। मेहुल चौकसी कैरेबियाई देश एंटीगुआ एंड बारबुडा में रह रहा है। वह सेहत खराब होने की बात कहकर भारत आने से इनकार कर चुका। प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) कोर्ट ने पिछले महीने उसकी याचिका रद्द कर दी थी। वह चाहता था कि ईडी एंटीगुआ जाकर उससे पूछताछ करे, पीएमएलए कोर्ट ईडी को इसके निर्देश दे।



Source link

Visit Our Youtube Chanel and Subsribe to watch public Survey : ( ଆମର ୟୁଟ୍ୟୁବ୍ ଚ୍ୟାନେଲ୍ ପରିଦର୍ଶନ କରନ୍ତୁ ଏବଂ ସର୍ବସାଧାରଣ ସର୍ଭେ ଦେଖିବା ପାଇଁ ସବସ୍କ୍ରାଇବ କରନ୍ତୁ: ) - Click here : Public voice Tv
ADVT - Contact 9668750718 ( Rs 5000 PM + 10 more digital campaign )
ADVT - Contact 9668750718 ( Rs 5000 PM + 10 more digital campaign )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here